नरेंद्र मोदी को बोले गुलाम नबी आजाद, “पगड़ी संभाल जट्टा पगड़ी संभाल”

नरेंद्र मोदी को बोले गुलाम नबी आजाद
Sponsored Links

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा में किसानों को देश की सबसे बड़ी ताकत बताते हुए कहा कि उनसे लड़ाई कर हम किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते। लड़ना है तो चीन, पाकिस्तान और कोरोना वायरस से लड़िए, किसानों से नहीं। इस दौरान उन्होंने 1900 के दशक में किसान आंदोलन के समय सबसे चर्चित गीत पगड़ी संभाल जट्टा पगड़ी संभाल को भी बोलकर सुनाया। उस समय राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे।

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जब किसानों ने अंग्रेज सरकार को अपने सामने घुटने टेकने पर भी मजबूर कर दिया था। इसी के साथ उन्होंने विभिन्न किसान आंदोलनों का भी विस्तार से जिक्र किया और पीएम मोदी से नए कृषि कानूनों को वापस लेने की भी मांग की।

गुलाम नबी आजाद ने की दिल्ली हिंसा की निंदा

गुलाम नबी आजाद ने 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली के लाल किले पर हुए हिंसा की कड़ी निंदा की। उन्होंने दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने की मांग की। गुलाम नबी ने कहा कि इस हिंसा में जो भी दोषी हो उसके खिलाफ कार्यवाही हो लेकिन इसके लिए निर्दोष किसानों को निशाना बनाना गलत है। उन्होंने राष्ट्रध्वज का अपमान करने वालों की कड़ी निंदा करते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही की भी मांग की और उस दिन के बाद गुम हुए लोगों की तलाश करने की भी मांग की।

देश के लिए जवानों के साथसाथ किसान भी जरूरी

गुलाम नबी आजाद ने देश के लिए किसानों को उतना ही जरूरी बताया जितना कि जवान होते हैं। उन्होंने कहा कि देश के जवान 50 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे की तापमान में डटे रहते हैं। उन्होंने गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों को भी श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा उन्होंने पिछले लगभग ढाई साल से नए कृषि कानूनों के विरोध में जान गँवाने वाले किसानों को भी श्रद्धांजलि दी।

जम्मूकश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा वापस करे सरकार

गुलाम नबी आजाद ने जम्मू कश्मीर को दो अलग-अलग केंद्रशासित प्रदेशों को विभाजित करने और धारा 370 को हटाए जाने का विरोध करते हुए सरकार से जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा वापस दिलाने की मांग की। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में रोजगार, शिक्षा और पर्यटन सहित कई क्षेत्र काफी प्रभावित हुए हैं। अगर इसका विकास करना है तो राज्य को पुनः उसी स्थिति में वापस लाना चाहिए। हालांकि इसके अलावा उन्होंने जम्मू-कश्मीर में स्थानीय चुनाव को अच्छे से सम्पन्न कराने के लिए भी सरकार की सराहना की।

विजय पाल सिंह तोमर ने किया धन्यवाद प्रस्ताव का समर्थन

भाजपा सदस्य विजय पाल सिंह तोमर ने धन्यवाद प्रस्ताव को समर्थन देते हुए कहा कि पहले सरकार का उद्देश्य उत्पादन को बढ़ावा देना था लेकिन अब किसानों को लाभ देने के ऊपर जोर दिया जा रहा है। इसी उद्देश्य से इन कानूनों को बनाया है। उन्होंने कहा कि पहले किसी भी फसल को खेतों से ग्राहकों तक जाने में बड़ी राशि मध्यस्थ लोगों के हाथों में चली जाती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। इन कानूनों के पास होने के बाद से किसान अपने फसल की उचित कीमत पा सकते हैं। 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*