सपा युवजन सभा के लोगो ने सरकार को दोषी मानते हुए उनकी सद्बुद्धि के लिए गंगा तट पर हवन किया. कार्यक्रम का आयोजन करने वाले सपा युवजन सभा के अध्यक्ष बंटी सेंगर का कहना है कि देश के प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री व पेट्रोलियम मंत्री सद्बुद्धि के लिए गंगा तट पर हवन का आयोजन किया है.

उनका कहना है कि जिस तरह से कोरोना काल में लोग आर्थिक मंदी से टूट रहे है,लेकिन पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी कर दी गयी. जिससे किसान व हर वर्ग के लोग परेशान है इसका सीधा असर जनता पर पड़ने वाला है.प्रधानमंत्री ने अपने आपको गंगा का बेटा कहा था,इसलिए गंगा के तट पर उनकी सद्बुद्धि के लिए इसका आयोजन किया गया है

Petrol se Mahanga Hua Diesel In Delhi

पेट्रोल से महंगा हो गया है. ऐसा दिल्ली ही नहीं, देश में भी पहली बार हुआ है कि डीजल की कीमत पेट्रोल से ज्यादा हो. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 79.76 जबकि डीजल की कीमत 79.88 रुपये प्रति लीटर हो गई है. हालांकि बाकी महानगरों में डीजल अब भी पेट्रोल से थोड़ा सस्ता है.

आइए जानें क्यों पेट्रोल से ज्यादा डीज़ल महंगाहुआ?-

एक्सपर्ट्स बताते हैं कि डीजल व पेट्रोल की कीमतों में अंतर होने की वजह पेट्रोल के मुकाबले डीज़ल पर प्रदेश व केन्द्र की तरफ से लगने वाले कर है। लेकिन अक्टूबर 2014 में डीरेगुलेशन के बाद दोनों के बीच का अंतर बहुत ज्यादा कम होता चला गया व अब तो डीजल की मूल्य पेट्रोल से ऊपर जा चुकी है।

देश में पेट्रोल-डीजल के दाम 7 जून से लगातार बढ़ रहे हैं। इन 16 दिनों में दिल्ली में पेट्रोल 8.30 रुपये यानी 11.65 प्रतिशत और डीजल 9.46 रुपये यानी 13.63 प्रतिशत महंगा हो चुका है। पेट्रोल की कीमत कोलकाता और मुंबई में 32-32 पैसे बढ़कर क्रमश: 81.27 रुपये और 86.36 रुपये प्रति लीटर पर पहुँच गई। चेन्नई में पेट्रोल 29 पैसे बढ़कर 82.87 रुपये प्रति लीटर पर रहा।

Sponsored Links
News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *