PM मोदी ने लॉन्च किया आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान

Sponsored Links

गोंडा के कमालपुर के विशुनपुरा की विनीता पाल से बात की. सबसे पहले पीएम ने बोला कि विनीता जी अपने बारे में बताइए? आप कैसे कार्य करती हैं? कबसे प्रारम्भ किया? आपके यहां 10 बहने जुड़ी हैं ? कुछ ट्रेनिंग मिली? 10 बहने कितना कमाई करती हैं?

इसपर विनीता ने बताया कि वर्ष में 6 लाख रुपये एक वर्ष में बचत होती है. कमाई भी हो रही है. पर्यावरण का रक्षा भी कर रही हैं. प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने बोला कि आप व आपके समूह की बहने प्रसंसनीय काम कर रही है. मैं बहुत शुभकामना देता हूं. इसपर विनीता ने प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद दिया. साथ ही बोला कि एक फूल पौध देना चाहती हूं. बता दें,इस दौरान जिले में डीएम नितिन बंसल सहित अन्य ऑफिसर मौके पर मोजूद रहे.

भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान ने आज आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार कार्यक्रम को प्रेरणा दी है. केंद्र सरकार की योजना को योगी जी की सरकार ने गुणात्मक और संख्यात्मक दोनों ही तरीकों से विस्तार दे दिया है. यूपी सरकार ने न सिर्फ इसमें कई योजनाएं जोड़ी हैं, बल्कि लाभार्थियों की संख्या बढ़ाई है. 

‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ में अलग क्या है? 

अभियान की आरंभ से पहले प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी का ट्वीट

अभियान की आरंभ करने से पहले प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘थोड़ी देर में मैं आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान की आरंभ करूंगा. इसके तहत प्रवासी कामगारों को रोजगार के मौका उपलब्ध कराने के साथ-साथ लोकल उद्यमिता को बढ़ावा दिया जाएगा.’

एक करोड़ से ज्यादा श्रमिकों को काम

उत्तर प्रदेश के 31 जिलों को इस योजना के तहत शामिल किया गया है व प्रदेश सरकार इस मौका का उपयोग श्रमिकों के कल्याण के लिए कर रही है. 25 श्रेणियों के कार्य पर ध्यान देने के साथ विभिन्न विभागों को कार्य देने का लक्ष्य रखा गया है व 1.25 करोड़ श्रमिकों को कार्य मिलेगा. वहीं, इसमें प्रति दिन 60 लाख श्रमिकों को कार्य दिया जाएगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*