किसानों की ट्रेक्टर रैली को पुलिस से मिली इजाजत, जानिए किस रूट पर होगा परेड

किसानों की ट्रेक्टर रैली को पुलिस से मिली इजाजत, जानिए किस रूट पर होगा परेडदिल्ली पुलिस के साथ हुई बैठक के बाद किसानों के रूट मैप को पुलिस विभाग से मंजूरी मिल चुकी है। देश भर के किसान 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली का आयोजन करेंगे। इस बैठक में दिल्ली पुलिस के डीसीपी स्पेशल सेल, एडिशनल डीसीपी आउटर नार्थ और हरियाणा पुलिस भी मौजूद रहे। इनके अलावा कुछ किसान नेताओं के सहित योगेंद्र यादव भी मौजूद रहे।

गौरतलब हो कि नवंबर 2020 से ही उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा के कई किसान दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।  

दिल्ली पुलिस से बैठक के बाद योगेंद्र यादव ने किसानों से किया अपील:

एएनआई के अनुसार स्वराज इंडिया पार्टी के संस्थापक एवं किसान नेता योगेंद्र यादव ने दिल्ली पुलिस के साथ मीटिंग के बाद किसानों को संबोधित करते हुए कहा किदिल्ली पुलिस की तरफ से आधिकारिक रूप से 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड निकालने की इजाज़त मिल गई है। जितने भी साथी अपनी ट्रॉलियां लेकर बैठें है। मैं उनसे अपील करता हूं कि सिर्फ ट्रैक्टर ही दिल्ली के अंदर लेकर आएं ट्रॉलियां लेकर आएं।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि 26 जनवरी को किसान शांतिपूर्ण तरीके से रैली का आयोजन करेंगे। वे दिल्ली नहीं दिल जीतने रहे हैं। दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने इस रैली की लिखित मंजूरी दी है साथ ही पुलिस ने रैली को लेकर हाई एलर्ट जारी कर दिया है।

किसानों के समर्थन में उतरे मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ:

सिर्फ योगेंद्र यादव ही नहीं बल्कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी इंदौर में किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर रैली निकाली और भाजपा का जमकर विरोध क़िया। उन्होंने कहा कि बीजेपी कृषि का निजीकरण करके गलत कर रही है। उसे शायद नहीं मालूम कि देश का बड़ा वर्ग किसान ही है। कृषि के निजीकरण से हमारे राज्य की अर्थव्यवस्था खराब होगी।

Sponsored Links

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने पुलिस विभाग को किया एलर्ट:

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने पुलिस विभाग को एलर्ट करते हुए कहा है कि वे 26 जनवरी की परेड के अलावा किसान रैली पर भी अपनी पूरी नजर बनाए रखें। किसी भी हाल में कानून व्यवस्था को बनाए 

रखना हमारी जिम्मेदारी होगी।

4 रूटों पर निकाली जाएगी ट्रैक्टर रैली:

आज लगभग 3 बजे किसानों ने दिल्ली पुलिस को अपना रूट मैप सौंप दिया था। इसके अनुसार ही उन्हें 4 रूटों पर रैली करने की लिखित मंजूरी दे दी गई है। ये 4 रूट हैं

  1. सिंघु रूट (74 किमी) NH44-मुनीम का बागनरेलाबवानाऔचंडी बॉर्डरखारखोदाकुंडलीसिंघु बॉर्डर
  2. टिकरी रूट (82.5 किमी) टिकरी बॉर्डरनांगलोईबपरौला गांवनजफगढ़झड़ौदा बॉर्डरबहादुरगढ़असोदा
  3. गाजीपुर रूट (68 किमी) गाजीपुर बॉर्डरअपसरा बॉर्डरहापुड़ा रोड-IMM कॉलेजलाल कुंआगाजीपुर बॉर्डर
  4. चिल्ला रूट (10 किमी) चिल्ला बॉर्डरक्राउन प्लाजा रेड लाइटडीएनडी फ्लाइवेदादरी रोडचिल्ला बॉर्डर।

तमिलनाडु के इरोड में राहुल गाँधी ने भरी हुंकार:

तमिलनाडु दौरे पर गए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि, “हम अपने इतिहास में पहली बार देख रहे हैं कि किसान 26 जनवरी को रैली कर रहे हैं क्योंकि वो दुखी हैं और इस बात को समझते हैं कि जो उनका है वो उनसे छीना जा रहा है। किसानों की परेशानियों को सुनने, समझने की बजाए मौजूदा सरकार उन्हें आतंकवादी कहती है। इन ताकतों से हम मिलकर लड़ेंगे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *